प्राइड मार्च शनिवार को

नागपुरः स्थानीय संविधान चौक पर एलजीबीटीक्यूआईए ( लेस्बियां, गे, बायसेक्सुअल, ट्रांसजेंडर, क्वीर्स व क्वेश्चनिंग, इंटरसेक्स और सेक्सुअल) कम्युनिटी द्वारा कल शाम तीन बजे से प्राइड मार्च का आयोजन किया जायेगा. गीत-संगीत और स्लोगन से भरे इस रंगारंग आयोजन में बड़ी संख्या में अलग तरह के यौनरूझान वाले कम्युनिटी मेंबर्स व सपोर्टर्स हिस्सा लेंगे और इस विषय पर अपने अनुभव व विचार शेअर करेंगे. इनमें दिल्ली, कोलकाता, मुंबई जैसे शहरों और स्टडी एक्सचेंज के अंतर्गत विभिन्न देशों से आए युवा शामिल हैं.

नागपुर में प्राइड मार्च का यह पाँचवां एडिशन है. हर साल इसका आयोजन काफी धूम-धाम से किया जाता है, लेकिन पिछले साल 16 फरवरी को आयोजित प्राइड मार्च में, एक ही दिन पहले पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ जवानों की दर्दनाक मृत्यु के कारण देशभर में फैले शोक को ध्यान में रखते हुए इसे बेहद सादगी के साथ और शांतिपूर्ण ढंग से मनाया गया और पुलवामा के शहीदों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई.

2018 में सुप्रीम कोर्ट द्वारा आर्टिकल 377 को रद्द कर, होमोसेक्सुअलिटी को डिक्रिमिनलाइज किए जाने के बाद इस बार का प्राइड मार्च और अधिक जोश और उल्लास से भरूपर रहने की उम्मीद जताई जा रही है.

मार्च के आयोजक सारथी ट्रस्ट के सीईओ निकुंज जोशी का कहना है कि मार्च का मुख्य उद्देश्य लोगों में एलजीबीटीक्यूआईए कम्युनिटी के बारे में जागरूकता का प्रसार कराना और उनके प्रति सकारात्मक नजरिया विकसित करना है, ताकि समाज में उनकी स्वीकार्यता बढ़े और उन्हें उपहास या उपेक्षा की दृष्टि से न देखा जाए.

2006 में नागपुर में स्थापित संस्था सारथी ट्रस्ट न सिर्फ एलजीबीटी कम्युनिटी के लिए एक सुरक्षित माहौल तैयार करने की दिशा में सक्रिय है, बल्कि इसके अलावा ट्रस्ट एचआईवी व अन्य यौनसंक्रामक बीमारियों के प्रति जागरूकता व रोकथाम के लिए भी कई सालों से कार्य कर रहा है. ट्रस्ट के अध्यक्ष आनंद चंद्रानी हैं.

Filed in: Events

You might like:

ताली बजाएं, फोन पाएं : क्लैप टू फाइंड ताली बजाएं, फोन पाएं : क्लैप टू फाइंड
स्पेस में ले जाएगा ‘ड्रैगन’ स्पेस में ले जाएगा ‘ड्रैगन’
लोककथाओं का संसार लोककथाओं का संसार
आ रहा है एसयूवीज का कारवां आ रहा है एसयूवीज का कारवां
© A touch of tomorrow !. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by Theme Junkie.