न भौंकेगे, न काटेंगे डिलीट योर अकाउंट बनाओ अपनी रिंगटोन चीटिंग  के  चांसेज रिश्ता ओके, शादी नॉट
तरह-तरह के इल्यूजन

तरह-तरह के इल्यूजन

लाइफ इज एन इल्यूजन, बहुत से लोगों को आपने अक्सर यह कहते सुना होगा. साइबर दुनिया में आपको ऐसी बहुत सारी वेबसाइट्स मिलेंगी, जो तरह-तरह के इल्यूजंस को फीचर करती हैं…. Read more »

हर दिन है खास

हर दिन है खास

हर दिन है खास ! यह काॅलम उन डेज को डेडिकेटेड है, जो दुनिया भर में बिना किसी डिस्क्रिमिनेशन के मनाए जाते हैं और हमें चड्ढी से लेकर बड्डी तक,… Read more »

स्वागत है राफेल

स्वागत है राफेल

फ्रांसीसी फाइटर जेट एयरक्राफ्ट राफेल फाइनली दस सितंबर को विधिवत रूप से भारतीय वायुसेना का हिस्सा बन जाएगा. पूरी तरह से ऑपरेशन के लिए तैयार पाँच राफेल विमान शामिल किए… Read more »

ई—बे टर्न्स 25

ई—बे टर्न्स 25

अगले हफ्ते ई—कॉमर्स वेबसाइट ई—बे 25 साल की होने जा रही है. 3 सितंबर 1995 को कैलिफोर्निया के सॅन जोस में शुरू की गई इस कंपनी के फाउंडर पियरे ओमिडयार… Read more »

बेड में कौन बेटर !

बेड में कौन बेटर !

कम्प्यूटर और गेमिंग डिवाइसेज पर वीडियो गेम खेलने वाले गेमर्स पर उनकी सेक्स्युअल परफाॅर्मेंस के बारे में हुई एक इंटरेस्टिंग स्टडीज में यह बात सामने आई है कि बेड पर पीसी… Read more »

एल्कोहल से चलेगा रोबोट

एल्कोहल से चलेगा रोबोट

अभी तक रोबोट्स काम करने के लिए बैटरी या इलेक्ट्रिसिटी से एनर्जी लेते रहे हैं. लेकिन, हाल ही में एक ऐसा रोबोट इन्सेक्ट, रोबीटल डेवलप किया गया है, जो एल्कोहल… Read more »

नाइट इन द वुड्स

नाइट इन द वुड्स

वुड्स के पीछे का स्याह संसार : गेम डिजाइनर एलेक होलोका ओर एनिमेटर/इलस्ट्रेटर स्काॅट बेन्सन की साझा कंपनी इनफिनिट फाॅल द्वारा रचित नाइट इन द वुड्स नामक यह गेम सिंगल प्लेयर… Read more »

आपके कदमों का हिसाब

आपके कदमों का हिसाब

यदि आप फिटनेस में दिलचस्पी रखते हैं, तो रनकीपर  एप्प आपके लिए बड़े काम का है. चाहे आप वाक करें, जाॅगिंग करें या दौड़ लगाएं, अपनी प्रोग्रेस को जानना बहुत जटिल… Read more »

हर दिन है खास

हर दिन है खास

हर दिन है खास ! यह काॅलम उन डेज को डेडिकेटेड है, जो दुनिया भर में बिना किसी डिस्क्रिमिनेशन के मनाए जाते हैं और हमें चड्ढी से लेकर बड्डी तक,… Read more »

अंधश्रद्धा और हम

अंधश्रद्धा और हम

आस्था और अंधश्रद्धा में फर्क कर पाना बहुत मुश्किल काम है. क्योंकि दोनों के बीच की रेखा इतनी बारीक है कि कब हमारे कदम इधर से उधर पड़ने लग जाते… Read more »

© 7006 A touch of tomorrow !. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by Theme Junkie.