हर दिन है खास

हर दिन है खास ! यह काॅलम उन डेज को डेडिकेटेड है, जो दुनिया भर में बिना किसी डिस्क्रिमिनेशन के मनाए जाते हैं और हमें चड्ढी से लेकर बड्डी तक, हमारी रोजमर्रा की लाइफ की छोटी-छोटी चीजों को सेलिब्रेट करना सिखाते हैं… इस काॅलम को रेगुलरली एडवांस में अपडेट किया जाता रहेगा, ताकि आप जिस दिन को एन्जाॅय करना चाहते हैं, उसके सेलिब्रेशन की तैयारियों के लिए एक-दो दिनों का वक्त मिल जाए.

संडे, 28 जून
वैसे तो आज सात दिन मनाए जाते हैं, जिनमें लॉजिस्टिक्स डे, सेविएशे डे, पाॅल बनयन डे और टैपिओका डे जैसे दिनों के विपरीत अपने काम के जो दिन हैं उनमें पहला है इंश्योरेंस अवेअरनेस डे. आज की अनसर्टेनिटी से भरी लाइफ में इंश्योरेंस प्लान बहुत जरूरी चीज हैं. हेल्थ, व्हीकल, लाइफ और गुड्स इंश्योरेंस जैसे कई आॅप्शन हैं, जिनमें आप अपनी रिक्वायरमेंट के अकाॅर्डिंग चूज कर सकते हैं, लेकिन चूज करने से पहले जो प्लान आॅप्ट कर रहे हैं, उसके बारे में पूरी जानकारी जरूर कर लें. उनका लिटरेचर पढ़ें और सावधान रहें कि आपका एजेंट आपको मिसगाइड तो नहीं कर रहा. अगला दिन, फैशन के दीवानों के लिए है. यह है इंटरनेशनल बाॅडी पिएर्सिंग डे. हालांकि यह एक पाॅपुलर ट्रेंड है, लेकिन इसमें रिस्क भी इन्वाॅल्व्ड है. आप अगर पिएर्सिंग कराना चाहते हैं तो सोचसमझ कर ही कराएं ताकि फैशन आपको महंगा न पडे. तीसरा दिन, लाॅग केबिन डे. सभ्यता के शुरुआती दिनों की यादों को ताजा करता है, जब लोग लकड़ी के लट्ठों को एक दूसरे के ऊपर सेट कर केबिन बनाते थे और उनमें रहकर सर्दी-गर्मी के असर को कम करते थे. आप भी ऐसे किसी केबन को तलाश सकते हैं, शायद कहीं कुछ हिल स्टेशनों पर ये अभी भी मौजूद हों. इसके बाद आता है

सेटरडे, 27 जून
आज की शुरुआत कुछ खा-पीकर करते हैं, क्योंकि आज है पाइनएप्पल डे. इस खट्टे-मीठे फल को तरह-तरह से खाया जा सकता है. स्लाइस बनाकर, जेली बनाकर, जूस निकालकर…जब यह पकता है तो इसकी खुशबू निराली ही होती है. तो आज के दिन आप भी पाइनएप्पल के स्वाद और सुगंध का मजा लीजिए. दूसरा दिन भी फ्रूट को ही डेडीकेटेड है, आॅरेंज ब्लॉसम डे. वैसे तो आॅरेंज का सीजन अभी नहीं रहा, लेकिन बाजार में ये आपको खाने को मिल सकते हैं. तो खाइए, जूस निकालकर पीजिए और दिन का मजा लीजिए. अगला दिन सनग्लास डे है. पहले इनकी जरूरत सिर्फ गर्मियों के दिनों में ही महसूस की जाती थी, पर अब आईज प्रोटेक्शन के लिए हर मौसम में सूरज की तेज लाइट से बचने के लिए इन्हें यूज किया जाने लगा है. इसके बाद इंडस्ट्रियल वर्कर्स आॅफ वर्ल्ड डे है. कुछ इंडस्ट्रीज ओपेन हो चुकी हैं. आसपास की किसी भी इंडस्ट्री में जाइए और मजदूरों को काम करते देखकर महसूस करने की कोशिश कीजिए कि क्या वाकई उन्हें उनकी मेहनत और अपने मुल्क की तरक्की में योगदान का उतना मेहनताना मिलता है, जितनी कि वे मेहनत करते हैं. लास्ट का दिन भी ऐसा ही ग्रेटिट्यूड शो करने के लिए है.यह है आर्म्ड फोर्स डे. यह दिन मनाने का उद्देश्य अपने देश के सैनिकों का मनोबल बढ़ाना और उन्हें यह यकीन दिलाना है कि देश की जनता उनकी बहादुरी और त्याग को समझती है और उसका सम्मान करती है.

फ्राईडे, 26 जून
आज के खास दिनों पर. पहला है, ब्युटिशियन डे. इसे मनाने के लिए आप किसी ब्यूटिशियन के पास जाकर उसे विश कर सकते हैं, उसकी अर्निंग और अपनी ब्यूटी बढ़ा सकते हैं और अगर खुद ब्युटिशियन हैं तो रेगुलर कस्टमर्स के लिए आज के दिन पार्टी रख सकते हैं. अगला दिन काफी इन्टेरिस्टंग और यूनिक है, टेक योर डॉग टू वर्क डे. इस दिन पैट्स आॅनर वर्किंग अपने डीयर डॉगी को आॅफिस या अपने एस्टेब्लिशमेंट ले जाते हैं, ताकि वे उन्हें कुछ चेंज मिले. पर अभी तो घर ही आॅफिस बने हुए हैं, इसलिए यह दिन मनाना थोड़ा मुश्किल ही होगा आपके लिए. नेक्स्ट डे है, केनोय डे है. अगर आपका इलाका लॉकडाउन बंदिशों में नहीं आता तो इस दिन को आप किसी भी रिवर या लेक के पास जाकर मना सकते हैं. बस आपके पास एक छोटी सी बोट होनी चाहिए. न हो तो वहाँ मौजूद मल्लाह या मछुआरों से रिक्वेस्ट कर सकते हैं कि वे कुछ देर आपको भी अपने साथ बैठाकर पानी में ले जाएं.. अब कुछ खाने की बातें भी कर लें, आज है चाॅकलेट पुडिंग डे. घर पर भी बना सकते हैं और बेकर से भी लेकर आ सकते हैं. मकसद तो इसके स्वाद का लुत्फ लेना है. लास्ट में है वर्ल्ड रेफ्रिजरेशन डे. यह आपको प्रेरित करता है कि हम रेफ्रिजरेटर के उस रोल को रिकोनाइज और एप्रिशिएट करें, जो यह मॉडर्न लाइफस्टाइल और हमारे हाउसहोल्ड्स में प्ले करता है.

थर्सडे, 25 जून
बारिश शुरू हो गई है, इसलिए आप इस दिन को मना तो नहीं सकते. लेकिन, जान तो सकते ही हैं. यह है बम्ब पॉप डे. बम्ब पॉप यानी बर्फ को घिसकर बनाए बुरादे की बॉल और उस पर रंगबिरंगे शर्बत की कवरिंग. खूब खाया होगा न पिछले साल तक. गर्मी होती तो भी आजकल सब बंद—बंद सा ही है. इसलिए, घर पर फ्रिज के बर्फ से ट्राई कर सकते हैं. न कर पाएं, तो भी मायूस होने जैसी कोई बात नहीं, आज और भी कई दिन हैं. अगला दिन बड़ा कन्फ्यूजिंग है, यह है कैटफिश डे. इसका संबंध न तो बिल्ली और मछली के रिश्ते से है और न ही यह कोई डिश है. बल्कि, यह एक होलीडे है, जिसकी शुरुआत 25 जून 1987 से अमेरिका में हुई थी, जब उस समय प्रेसिडेंट बने रोनाल्ड रीगन ने अपनी ओपेनिंग स्पीच दी थी और उसमें कैटफिश की फूड और ईकोनाॅमी में इम्पोर्टेंस के बारे में बताया था. तब से इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है और लोग कैटफिशिंग के लिए जाते हैं, उनसे लजीज डिशेज बनाते हैं और खाते हैं. तीसरा और चौथा दिन भी खाने—पीने वाला ही है. यह है गॉट चीज डे. यानी बकरी के दूध से बना चीज. आप इस चीज से पकौड़े, सेंडविच, परांठे वगैरह बनाकर खा सकते हैं और रेनी सीजन का मजा ले सकते हैं. इसके बाद बारी है स्ट्राबेरी परफेट डे की. यह एक ऐसी डिश है, जिसे काँच के गिलास या कप में क्रीम की अलग—अलग लेयर्स के बीच फ्रूट्स, ड्राई फ्रूट्स, चॉकलेट चिप्स आदि को सेट करके बनाया जाता है. आप भी बनाइए और मजे से खाइए. पाँचवां दिन है ग्लोबल बीटल्स डे है, जो हमें इन्सपायर करता है कि इस बेढब से दिखने वाले कीड़े की खूबियों के बारे में जानें. लास्ट में है वह दिन, जिसे सबसे पहले आना चाहिए था… यह है, कलर टीवी डे. जो लोग 80ज से पहले की जेनरेशन से बिलाॅन्ग करते हैं, उन्हें याद होगा कि किस तरह ब्लैकएंडव्हाइट टीवी के दौर में उसे रंगीन देखने के लिए उस पर चार रंगों वाली स्क्रीन या आँखों पर रंगबिरंगे लेंस वाले ग्लासेज पहने जाते थे. रंगीन टीवी जब शुरु हुआ तो उसने इन सब कसरतों से निजात दिलाई.

वेडनसडे, 24 जून
आज के दिनों में शामिल है स्विम ए लैप डे. यह हमें इन्सपायर करता है कि हम स्विमिंग को अपने डेली रूटीन का पार्ट बनाकर हेल्दी और हैप्पी रहें, और अपने स्विमिंग पूल को चलाए रखने में मदद करें. दूसरा दिन, प्रेलाइंस डे कन्फेक्शनरी लवर्स के लिए है. इसे मनाने के लिए कन्फेक्शनरी शाॅप पर जाएं और दुकानदार से टेस्ट करने के बहाने अलग-अलग किस्म प्रेलाइंस लेकर खाते जाएं फिर उनमें से कोई एक खरीदकर घर ले आएं और हमें इन्वाइट करें ताकि हम भी इसका मजा ले सकें. तीसरा दिन, फेअरी डे है. परीकथाओं की दुनिया में होकर अपने बचपन को रिकाॅल कीजिए और फिर से कोई फेअरी टेल्स बुक या फेअरी मूवी का मजा लें. चौथे दिन, अपसाइक्लिंग डे को मनाने में आपको बहुत मजा आएगा. अपसाइक्लिंग, रिसाइक्लिंग की ही बहन है. यह एक ऐसा ट्रेंड है, जिसमें अपनी पुरानी चीजों, जैसे फर्नीचर आदि को अपनी क्रिएटिविटिी और क्राफ्ट का यूज करते हुए नए जैसा बना दिया जाता है. आप भी कुछ ऐसा ही ट्राइ कीजिए और यह दिन सेलिब्रेट कीजिए.

ट्यूजडे, 23 जून
मुश्किल है, लेकिन नामुमकिन नहीं, जो कि आज का दिन लेट इट गो डे हमें सिखाता है. जो हो गया, उसे भूलकर जो है, उसे एन्जाॅय करो, यही इस दिन को सेलिब्रेट करने का मेन पर्पज है. दूसरा दिन, पब्लिक सर्विस डे है. यह खासतौर पर ऐसे लोगों के लिए है, जो जनता की सेवा करने वाले पेशों जैसे हेल्थ सर्विसेज, सिक्युरिटी, पोस्टल सर्विसेज, पब्लिक ट्रांसपोर्ट वगैरह, से जुड़े हैं. यह दिन हमें मौका देता है कि अपनी सेवा में लगे ऐसे लोगों के प्रति अपना ग्रेटिट्यूड शो करें. आप भी अपने पोस्टमैन को एक चाकलेट बाॅक्स दे सकते हैं, ट्रैफिक कांस्टेबल को फ्लाॅवर या डस्कमास्क दे सकते हैं….अगला दिन, टाइपराइटर डे है. हालांकि कम्पयूटर ने इसकी अहमियत और पाॅपुलरिटी को बहुत श्रिंक कर दिया है, फिर भी अभी भी आप कुछ जगहों पर इसे इस्तेमाल होते देख सकते हैं.

मंडे, 22 जून
कल सेलिब्रेशन के लिए बहुत सारे दिन थे, इसलिए आप थक गए होंगे तो आज रिलेक्स कीजिए और चाॅकलेट एक्लेयर खाकर चाॅकलेट एक्लेयर डे और ओनियन रिंग्स ( प्याज के रिंग्स को नमक, अजवान और लाल मिर्च मिले बेसन में लपेटकर तेल में तलें तो बन जाएंगे.) खाकर ओनियन रिंग्स डे मना सकते हैं. रेनी सीजन स्टार्ट हो गया है, किसी फॉरेस्ट की सैर कर रेनफॉरेस्ट डे मना सकते हैं, अगर यह मुमकिन न हो तो इंटरनेट पर वर्च्युअल सैर कर सकते हैं. चौथा दिन, पॉजिटिव मीडिया डे है. मीडिया कई सालों से अपनी विश्वसनीयता को लेकर सवालों से घिरा हुआ है, लेकिन उसके कई अच्छे पहलू भी हैं, उन्हें याद कीजिए और मीडिया से जुड़े अपने फ्रेंड्स को विश कर यह दिन मनाइए. लास्ट में है, बी किंडर डे. यह दिन बिली किंडलर नाम की एक लड़की की याद में मनाया जाता है, जिसकी 12 साल की उम्र में एक हॉर्स राइडिंग एक्सीडेंट में डेथ हो गई थी. उसकी मॉम ने अपनी बेटी की याद में इस दिन को ऐसे बच्चों को सम्मानित करना शुरू कर दिया, जो अपने अच्छे और आॅफबीट कामों से कुछ फर्क पैदा करते हैं. आप भी इस दिन को कोई अच्छा काम करके सेलिब्रेट कर सकते हैं.

संडे, 21 जून
आज दो—चार नहीं, पूरे सवा दर्जन दिन हैं और सभी मनाने लायक. सोचना यह है कि हम या तो सिर्फ कुछ चुने हुए दिनों के बारे में बताएं या फिर सभी के बारे में एक—एक करके बताएं और जो आपको मनाना हो, मना लें. दूसरा आॅप्शन ही बेटर लग रहा है. (1) मेक म्युजिक डे : कोई साज या सिंथेसाइजर है तो मीठी-मीठी धुनें बनाइए. न हो तो इंटरनेट पर एवेलेबल टूल्स की हेल्प ले सकते हैं. अगर नहीं बना पाएं तो सेलिब्रेट करने के लिए (2) वर्ल्ड म्युजिक डे भी आज ही है. अपना पसंदीदा संगीत सुनिए और दिन को खुशनुमा बनाइए. (3) सेल्फी डे : सेल्फी कल्चर का हिस्सा बनिए और किसी खूबसूरत जगह पर या खूबसूरत पर्सन के साथ एक खूबसूरत सेल्फी ले डालिए. आगे बढ़ने से पहले आप सभी को, चाहे वो फादर हो या सन या डाॅटर, (4) फादर्स डे  की बहुत सारी मुबारकबाद. एक फादर ही तो है, जो अपने बच्चों को सिक्युरिटी, सपोर्ट और एश्योरेंस देता है. तो सबसे पहला काम यही कीजिए कि अपने पिता को फादर्स डे के मौके पर कोई अच्छा सा गिफ्ट और विशेज दीजिए. (5) गो स्केटबोर्डिंग डे : इस दिन स्केटबोर्ड पर अपनी स्पीड और बैलेंस टेस्ट कीजिए, डर लगता है तो किसी स्केटिंग क्लास में जाकर दूसरों को करते देखकर भी एन्जाॅय कर सकते हैं. (6) वर्ल्ड ह्यूमैनिस्ट डे: यह उन लोगों के जज्बे को सलाम करता है, जो हर तरफ फैली नेगेटिविटी में भी इंसानियत को अहमियत देते हैं और जरूरतमंदों की मदद के लिए तैयार रहते हैं. क्या आप या आपका कोई परिचित इनमें से एक है? अगर हाँ तो हार्दिक बधाई. अगला दिन, भारत के नाम है. (7) अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस: आप अगर योग करते हैं तो बहुत अच्छा, नहीं करते तो आज किसी पार्क या जंगल में जाकर दूसरों से इन्सपायर हो, इसकी शुरुआत कर सकते हैं. (8) डे लाइट एप्रिसिएशन डे : अल सुबह उठकर योग करेंगे तो लाइट कुछ अलग ही नजर आएगी. वैसे भी डे लाइट के बिना लाइफ इमेजिन करना मुश्किल है. इसलिए इसे एप्रिसिएट तो करना ही चाहिए, क्योंकि यह हमें बिना किसी प्रयास और खर्च के मिलती है. (9) बॉक्सकार्ट बाश डे : नॉन मोटराइज्ड व्हीकल्स को एन्करेज करने के लिए मनाया जाने वाले इस दिन ऐसे व्हीकल्स की रेस आयोजित करती है, जो चलने के लिए मोटर के मोहताज नहीं होते.जैसे कि ठेला, रिक्शा या पैडल कार्ट. पार्टिसिपेंट्स इन्हें अपने—अपने तरीके से डिजाइन करते हैं, ताकि ज्यादा से ज्यादा अट्रेक्टिव लग सकें. नॉनमोटर के बाद बारी है मोटर वाले व्हीकल की, जिसके नाम में ही मोटर जुड़ा है. आज है (10) वर्ल्ड मोटरसाइकिल डे : अब तय कर लीजिए कि आपको कौन सा दिन मनाना है. आप सोच रहे होंगे कि इतनी देर हो गई, अभी तक कोई खाने—पीने वाला दिन नहीं आया. तो हाजिर है (11) पीच ‘एन’ क्रीम डे: ताजे पीच तो शायद ही कहीं मिलें, लेकिन डिपार्टमेंटल स्टोर में फ्रोजेन पीच और क्रीम दोनों ही मिल जाएंगे, ताकि आप यह दिन मना सकें. बाकी के जानने लायक दिनों में हैं (12) इंडी​जीनियस पीपल डे व (13) जिराफ डे, इन्हें मनाने का बेस्ट वे यही है कि इनके बारे में और जाना जाए. लास्ट में है (14) आॅप्टिमिज्म डे : इस संकट और निराशा के दौर में आॅप्टिमिज्म ही है जो  हमें हिम्मत दे सकता है. इसलिए उम्मीद का दामन मत छोड़िए और के सेरा सेरा यानी जो होगा सो होगा… गुनगुनाइए. – श्वेता अग्रवाल

Filed in: Let's Celebrate

You might like:

हीरोबोट हीरोबोट
पैरानाॅर्मल की जानकारी पैरानाॅर्मल की जानकारी
हर दिन है खास हर दिन है खास
क्वालिटी और  क्वांटिटी क्वालिटी और क्वांटिटी
© A touch of tomorrow !. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by Theme Junkie.