List/Grid Editor's Notes Subscribe RSS feed of category Editor's Notes

पागलपंती भी जरूरी है

पागलपंती भी जरूरी है

एक शीतल पेय के विज्ञापन की इस पंचलाइन से पूरी तरह सहमत होना शायद आपको तर्कसंगत न लगे, लेकिन इससे इंकार नहीं किया जा सकता कि ज्ञान के प्रभुत्व वाले… Read more »

आज इम्तेहान का दिन

आज इम्तेहान का दिन

हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के ‘जनता कर्प्यू’ के आह्वान पर अमल का दिन आज आ पहुँचा है. कोरोना वायरस के खिलाफ एकजुटता का संदेश देने वाले इस दिन… Read more »

दहशत को ‘नमस्ते’

दहशत को ‘नमस्ते’

बीमारियों से डरना भी चाहिए, बचना भी चाहिए और इलाज भी कराना चाहिए… इस बात से कौन इंकार करेगा. लेकिन किसी भी बीमारी को महामारी मानकर उसकी दहशत के साये… Read more »

राइट्स आॅफ रोबोसेपियंस

राइट्स आॅफ रोबोसेपियंस

एक ऐसी दुनिया, जिसमें आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस ने मशीनों को इंसानों की तरह सोचने, व्यवहार करने और फैसले लेने में सक्षम बना दिया है, इस सवाल में कुछ भी आश्चर्यजनक नहीं… Read more »

लीप इयर डे

लीप इयर डे

आज लीप इयर डे है. लीप इयर यानी ऐसा साल जिसमें फरवरी 29 दिनों की होती है. हर चौथे साल आने वाले इस दिन को दूसरे दिनों जैसा भी एक… Read more »

बेनिफिट्स आॅफ नथिंग

बेनिफिट्स आॅफ नथिंग

‘हे,क्या कर रहे हो?’ ‘नथिंग…’ ‘वेल, समटाइम्स नथिंग इज बेटर दैन एनिथिंग…’ चौंक गए ना… जब आप हमेशा यही जुमला सुनते आए हों कि समथिंग इज बेटर दैन नथिंग तो… Read more »

कोरोना कॉन्सपिरेसी!

कोरोना कॉन्सपिरेसी!

पिछले करीब एक महीने से कोरोना वायरस की दहशत ने न केवल इसके ओरिजिन कंट्री चीन, बल्कि लगभग सारी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है. हर रोज अलग—अलग… Read more »

ढूंढते रह जाओगे

ढूंढते रह जाओगे

अक्सर हम एक से एक बेहतरीन विज्ञापनों से गुजरते हैं, कभी ये विज्ञापन प्रिंट में होते हैं, कभी टीवी के पर्दे पर, कभी किसी और मीडिया पर…किसी का विज्युअल हमें… Read more »

मनुष्य और महात्मा

मनुष्य और महात्मा

आज राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की शतकोत्तर स्वर्ण जयंती वर्ष में पड़ रही 72वीं पुण्यतिथि है. पूरे देश में उन्हें अपने-अपने तरीके से याद किया जा रहा है, हम भी करेंगे…. Read more »

कमान से निकला तीर…

कमान से निकला तीर…

जोश में आकर ट्वीट कर देना और फिर बाद में विवाद होने पर उसे अकाउंट से हटा देना…बहुत सारे नेता-अभिनेता या दूसरे क्षेत्रों के मशहूर लोग आए दिन ऐसा करते… Read more »

मत छीनो अंधेरा

मत छीनो अंधेरा

दुनिया भर में अलग-अलग स्तरों पर ज्यादा से ज्यादा रोशनी का इंतजाम करने की कवायदें जारी हैं. कहीं नकली सूरज बनाने की तैयारी चल रही है, कहीं आईने लगाकर उसकी… Read more »

भविष्य की भाषा

भविष्य की भाषा

दोस्तों, भाषा और लिपि ऐसे विषय हैं, जिस पर बड़े-बड़े ग्रंथ लिखे गए हैं, लिखे जा रहे हैं और लिखे जा सकते हैं. इसलिए यहाँ बहुत विस्तार में न जाते… Read more »

© A touch of tomorrow !. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by Theme Junkie.