2017′s BIGs-IX

दुनिया की पहली हाईड्रोजन रेल
जर्मनी ने कोराडिया आईलिंट नाम की एक ऐसी ट्रेन पेश की है जो एयर और साउंड पाॅल्यूशन से से पूरी तरह फ्री होगी. करीब 104 किलोमीटर की स्पीड वाली यह ट्रेन जीरो एमिशन प्रिंसिपल को फाॅलो करते हुए हाइड्रोजन फ्यूल से चलेगी, जिसे अभी राॅकेट में यूज किया जाता है.
coradia_FotoSketcher
फ्रांसीसी कंपनी अल्सटॉम की बनाई कोराडिया आईलिंट को अगले महीने टेस्ट किया जाएग और अगर रिजल्ट पाॅजिटिव रहे तो अगले साल यानी दिसंबर 2017 में इन्हें आॅपरेशनल कर दिया जाएगा और ऐसी 14  ट्रेनें चलाई जाएंगी, फिर धीरे-धीरे जर्मनी की चार हजार डीजल ट्रेनों को  कोराडिया आईलिंट से रिप्लेस किया जाएगा.
जीरो कार्बन ड्राई ऑक्साइड एमीशन करने वाली आईलिंट में लिथियम आयन बैटरी और छत पर हाइड्रोजन फ्यूल टैंक लगे है. यह हाइड्रोजन ऑक्सीजन के साथ जलकर एनर्जी जेनरेट करती है. चलते हुए इसमें से सिर्फ स्टीम बाहर निकलती है.
Filed in: World Next

You might like:

आ रहा है एसयूवीज का कारवां आ रहा है एसयूवीज का कारवां
हर दिन है खास हर दिन है खास
डाॅन्ट मिस इट… डाॅन्ट मिस इट…
लाइफ विदआउट सेक्स ? लाइफ विदआउट सेक्स ?
© A touch of tomorrow !. All rights reserved. XHTML / CSS Valid.
Proudly designed by Theme Junkie.